Visitors Views 199

गाय के नाम पर भीड़ इकट्ठा करने वाले भाजपाई, भीड़ में गाय को बर्दाश्त नहीं कर पाए

breaking रतलाम

रतलाम| राजेश झाला ए.रज़्ज़ाक

भाजपा शहर सहित पूरे देश में गाय के नाम पर भीड़ जुटाती आई है| लेकिन जब गौ माता रतलाम में भाजपा प्रत्याशी चेतन कश्यप की भीड़ में आ गई तो प्रत्याशी जी बोले यह पुराने हथकंडे फिर आजमाए जा रहे हैं| उनका इशारा शायद गैर भाजपाइयों पर था| गाय का सभा में पधार ना कश्यप जी को ना गवारा गुजरा जो गाय के दम पर राजनीति करते हैं| ऐसे लोग मौका आने पर गौ माता का तिरस्कार भी करते हैं| मतदाताओं की मानें तो किसी भी शुभ कार्य में गौमाता की उपस्थिति शुभ होती है| लेकिन अब रतलामी कह रहे हैं कि “फूटे करम फकीर के जो  भरी चिलम ढुल जाए” अर्थात कितना भी बड़ा धनबल वाला हो यदि उसके राजयोग नहीं है, तो “विनाश काले विपरीत बुद्धि” होने लगती है| गाय की जगह दी सभा में कई मवेशी पशु होते तो शायद मतदाताओं को भी लगता कि प्रत्याशी जी सही बोल रहे हैं| सत्य सनातन में गौमाता पूजनीय है| जैनाचार्य भी गौ रक्षा की बात करते हैं| शहर में लोग सर्दी में पारस दादा के गरमागरम भाषणों को खूब तवज्जो दे रहे है| कांग्रेसी उम्मीदवार श्रीमती प्रेमलता दवे की सभा में सैकड़ों ग्वालो एवं गो भक्तों की भीड़ भी रतलाम विधानसभा में चर्चा का विषय है|

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Visitors Views 199