Visitors Views 3692

IND vs AUS: ऑस्ट्रेलिया से चार साल बाद वनडे सीरीज हारा भारत, खराब बल्लेबाजी से जीता हुआ मैच पलटा, सूर्या हुए फिर से फ्लॉप

breaking अंतरराष्ट्रीय खेल

जनवकालत न्यूज़/ चेन्नई। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच वनडे सीरीज का तीसरा और निर्णायक मुकाबला कंगारू टीम ने 21 रन से जीत लिया। इसके साथ ही ऑस्ट्रेलिया ने वनडे सीरीज भी 2-1 से अपने नाम की। भारतीय टीम चार साल बाद अपने घर में कोई वनडे सीरीज हारी है। इससे पहले मार्च 2019 में ऑस्ट्रेलिया ने ही भारत को 3-2 के अंतर से हराया था। इसके बाद टीम इंडिया ने अपने घर में लगातार सात सीरीज जीतीं। अब फिर से कंगारुओं ने भारत को घर में मात दी है।

चेन्नई में खेले गए सीरीज के तीसरे और आखिरी मैच में ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 49 ओवर में 269 रन बनाए थे। 47 रन बनाने वाले मिचेल मार्श सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज थे। भारत के लिए हार्दिक पांड्या और कुलदीप यादव ने तीन-तीन विकेट लिए थे। इसके जवाब में भारतीय टीम 49.1 ओवर में 248 रन पर सिमट गई और मैच 21 रन से हार गई। भारत के लिए विराट कोहली ने सबसे ज्यादा 54 रन बनाए। वहीं, ऑस्ट्रेलिया के लिए एडम जैम्पा ने चार विकेट लिए।

पहली पारी में क्या हुआ?

ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। ट्रेविस हेड और मिचेल मार्श की जोड़ी ने शानदार शुरुआत की। पावरप्ले में इन दोनों ने 61 रन जोड़े। डेविड वॉर्नर और मार्नस लाबुशेन ने चौथे विकेट के लिए 40 रन की साझेदारी की, लेकिन कुलदीप यादव ने दोनों को आउट कर मैच में भारत की पकड़ मजबूत कर दी। मार्कस स्टोइनिस और एलेक्स कैरी ने छठे विकेट के लिए 58 रन जोड़े, लेकिन अक्षर ने स्टोइनिस को 25 रन के स्कोर पर गिल के हाथों कैच कराया। इसके बाद कुलदीप ने शानदार गेंद कर कैरी को बोल्ड कर दिया। कैरी ने 38 रन बनाए।

भारत की अच्छी शुरुआत

270 रन का पीछा करते हुए शुभमन गिल और कप्तान रोहित की जोड़ी ने अच्छी शुरुआत की। दोनों ने पहले विकेट के लिए 65 रन जोड़े। रोहित शर्मा 17 गेंद में 30 और गिल 49 गेंद में 37 रन बनाकर आउट हुए। 12 रन के अंतराल में दोनों सलामी बल्लेबाज गंवाने के बाद टीम इंडिया मुश्किल में दिख रही थी, लेकिन विराट कोहली ने राहुल के साथ मिलकर शानदार साझेदारी की और भारत को मैच में काफी आगे कर दिया। तीसरे विकेट के लिए कोहली और राहुल के बीच तीसरे विकेट के लिए 69 रन की साझेदारी हुई। जैम्पा ने राहुल को 32 रन के स्कोर पर आउट किया।

भारी पड़ा बल्लेबाजी क्रम में बदलाव 

इस मैच में अक्षर पटेल को पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी के लिए भेजा गया, लेकिन कोहली के साथ गलतफहमी के चलते वह सिर्फ दो रन के स्कोर पर रन आउट हो गए। हालांकि, विराट एक छोर पर खड़े रहे और अपना अर्धशतक पूरा किया। 185 रन पर छह विकेट गंवाने के बाद टीम इंडिया मुश्किल में आ गई थी। इसके बाद जडेजा और पांड्या ने 33 रन की साझेदारी की, लेकिन पांड्या रन गति बढ़ाने के चक्कर में 40 रन के निजी स्कोर पर आउट हो गए। यहीं से भारत की जीत की उम्मीदें बेहद कमजोर हो गई थीं। इसके बाद जडेजा भी 18 रन बनाकर आउट हो गए और भारत की हार तय हो गई।

पूरी सीरीज में फ्लॉप रहे सूर्या

सूर्यकुमार यादव ने इस सीरीज के तीनों मुकाबलों में बेहद निराशाजनक प्रदर्शन किया। पूरी सीरीज में उन्होंने कुल तीन गेंदों का सामना किया और हर गेंद में आउट हुए। वह सीरीज के तीनों मुकाबलों में पहली ही गेंद पर खाता खोले बिना पवेलियन लौट गए। शुरुआती दो मुकाबलों में मिचेल स्टार्क ने उन्हें आउट किया, जबकि तीसरे मुकाबले में वह एश्टन एगर की गेंद पर क्लीन बोल्ड हुए। भारत के सीरीज गंवाने में उनके फ्लॉप शो का सबसे बड़ाय योगदान है।

ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर्स ने पलटा मैच

इस मैच में 270 रन का पीछा करते हुए भारत ने चार विकेट पर 185 रन बना लिए थे। विराट और हार्दिक क्रीज पर जम चुके थे। ऐसे में भारत की जीत तय दिख रही थी, लेकिन एश्टन एगर ने लगातार दो गेंदों पर कोहली और सूर्यकुमार को आउट कर भारत को मुश्किल में डाल दिया। इसके बाद लग रहा था कि हार्दिक और जडेजा मिलकर भारत को जीत दिला सकते हैं। ऐसे में जैम्पा ने दोनों को आउट कर ऑस्ट्रेलिया की जीत तय कर दी। इस मैच में ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर्स ने 20 ओवर में 86 रन देकर छह अहम विकेट झटके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Visitors Views 3692