Visitors Views 196

इस बार केवल 6 % किसानों को मिला लागत मूल्य

breaking देश मध्यप्रदेश रतलाम

मंदसौर।

विहिप के पूर्व अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि देश के किसानों का दुर्भाग्य है कि वह कर्ज में ही जन्म लेता है और पूरा जीवन जीता है और कर्ज में ही मर जाता है। किसानों को अपना अधिकार ही नहीं मिल रहा हैं। वह देश का किसान ही है जिसका एक बेटा खेत में अन्ना उगाता है तो दूसरा बेटा सैनिक बनकर सरहद पर रक्षा करता है। मेरे मोटा भाई (नरेंद्र मोदी) कहते हैं कि किसानों को लागत से डेढ़ गुना मूल्य दे रहे हैं, पर इस बार केवल 6 प्रश किसानों को ही लागत मूल्य मिला। अमेरिका में सभी किसानों को फसल बीमा मिलता है। चीन में दो तिहाई किसानों को इसका लाभ मिलता है, पर भारत में आकर केवल 24 प्रश किसानों को ही इसका लाभ मिला है। देश का दुर्भाग्य है कि अन्ना पैदा करने वालों को अपना अधिकार नहीं मिल रहा है।

तीन बार कार्यकाल बढ़ाया, अंतिम तारीख भी निकल गई

भारतीय किसान मजदूर महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवकुमार शर्मा कक्काजी ने कहा कि जो हत्यारे हैं और जिन्होंने पीट-पीटकर किसानों को मारा है, वही उनकी जांच कर रहे हैं। जैन आयोग का कार्यकाल तीन-तीन बार बढ़ चुका है 11 मई को कार्यकाल खत्म हो गया है फिर भी रिपोर्ट नहीं दी गई है। राहुल गांधी की सभा में भीड़ स्वपे्ररणा से आई थी। वह पूड़ी पैकेट के चक्कर में नहीं थे। इस दौरान मंच पर बरखेड़ा पंथ के मृत किसान अभिषेक पाटीदार के पिता दिनेश पाटीदार और बड़वन के मृत किसान घनश्याम धाकड़ के पिता दुर्गालाल धाकड़ से भी तीनों नेताओं ने मुलाकात की। मंच पर सबसे पहले छह मृत किसानों को श्रद्धांजलि दी गई। संचालन महासंघ के संभागीय अध्यक्ष दिनेश शर्मा ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Visitors Views 196