Visitors Views 134

भव्य उत्साह के साथ हुआ आजाद चौक सांस्कृतिक मंच के तीन दिवसीय महागरबा रास का समापन….

breaking रतलाम

रतलाम। प्रकाश तंवर

आसमान पर 16 कलाओं में पूर्ण शरद पूर्णिमा का चांद चमक रहा था और नीचे चांदनीचौक में रंग बिरंगे परिधानों में सजी बालिकाएं गरबा रास से लोगों का मन मोह रही थी। पूरी रात गरबों की धुनों तक थिरकते कदम मां की आराधना करते रहे, तो मध्यरात्रि के बाद सोने, चांदी के सिक्कों के साथ बांटे गए पुरस्कार प्राप्त कर चेहरों पर चांदनी मुस्कान छाती रही।

आजाद चौक सांस्कृतिक मंच का तीन दिवसीय गरबा महारास महोत्सव शरद पूर्णिमा के साथ पूर्ण हुआ। इसके अंतिम दिन रविवार रात को भव्य गरबा रास हुआ जिसमें मध्यरात्रि कब बीत गई न तो आराधिकाओं को ध्यान रहा न ही देख रहे दर्शकों को। चांदनी चौक में आजाद चौक सांस्कृतिक मंच के तीन दिवसीय गरबा महोत्सव के तीसरे दिन रविवार रात निगम अध्यक्ष अशोक पोरवाल, भाजपा जिला अध्यक्ष राजेंद्रसिंह लुनेरा, पूर्व सांसद प्रतिनिधि राजीव रावत, कांग्रेस नेता महेंद्र कटारिया, विजय सिंह चौहान, बसंत पंड्या, इंदौर से आए लायंन अनिल खंडेलवाल, महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष अदिति दवेसर, प्रोफेसर एवं तुलसी परिवार की सुषमा कटारे, संजय छाजेड़, कांतिलाल छाजेड़ आदि ने महाआरती उतारी। रात इतने शानदार गरबों का आयोजन हुआ जिन्हें देखने वालों की भीड़ घंटो तक एकटक जमी रही।

आराधिकाओं में हुई इतना कड़ी स्पर्धा की बढाने पड़े ईनाम…

मंच संयोजिका प्रेमलता दवे ने बताया कि स्पर्धा के तीनों दिन निर्णायकों की भूमिका अंशू मिश्रा और विनोद पोरवाल ने संभाली। इनके साथ ही प्रतिदिन ओडियेंस पोल भी किया गया जिसमें दर्शकों ने श्रेष्ठ गरबा करने वाली आराधिकाओं के साथ ही श्रेष्ठ परिधान, श्रेष्ठ मुखमुद्रा, श्रेष्ठ शैली, श्रेष्ठ मंचन के लिए अपना निर्णय दिया। इसके आधार पर अंतिम दिन गरबा रास के समापन के बाद जब पुरस्कार वितरण की बारी आई तो तय किए गए 10 श्रेष्ठ आराधकों के बजाय 20 आराधकों को ईनाम दिए गए।

10 ग्राम सोने के सिक्के सहित 500 से ज्यादा ने पाए ईनाम…

मंच की ओर से घोषित प्रथम पुरस्कार जीतने वाली 373 बैच नंबर बालिका ने 10 ग्राम सोने का सिक्का, द्वितीय पुरस्कार में 206 बैच नंबर को 5 ग्राम सोने का सिक्का तथा तृतीय पुरस्कार में 199 बैच नंबर बालिका ने 3 ग्राम सोने का सिक्का जीता। इसके अलावा 484 बैच नंबर ने चतुर्थ पुरस्कार के रुप में 150 ग्राम चांदी का सिक्का, 169 बैच नंबर ने पंचम पुरस्कार 100 ग्राम चांदी का सिक्का एवं छठे व सातवें पुरस्कार के लिए 10 बालिकाओं को 50-50 ग्राम चांदी के सिक्के दिये गए। यहां ओडियेंस के निर्णय के आधार पर श्रेष्ठ गरबा करने वाली आराधिका बढने पर 10 बालिकाओं को मंच की ओर से 2-2 हजार रुपए के नकद पुरस्कार भी दिया गया। इसके अलावा 10 लक्की ड्रा तथा प्रोत्साहन पुरस्कार भी बांटे गए। यह समारोह देर रात चलता रहा जिसमें आराधिकाओं के साथ मंच के पदाधिकारी, कार्यकर्ता और वोलेंटियर्स भी उत्साह के साथ सेवा देते रहे।

महात्मा गांधी को समर्पित रहा समारोह…

तीनों दिन का गरबा रास आयोजन इस वर्ष महात्मा गांधी की 150वीं जयंती को समर्पित रहा। इस दौरान प्रतिदिन लायंस क्लब समर्पण तथा अन्य समाजसेवी संस्थाओं के साथ आजाद चौक सांस्कृतिक मंच की ओर से गरबा पांडाल में सुदंर रंगोली सजाई गई। तीनों दिन गांधी जी के सर्वधर्म समभाव, एकता, अखंडता, स्वच्छता के संदेश प्रतिपादित किए गए। मंच संयोजिका प्रेमलता दवे, सहसंयोजक अंकित सिसोदिया, संस्था अध्यक्ष मदन सोनी, कोषाध्यक्ष यश दवे आदि ने अतिथियों को मां दुर्गा के साथ ही महात्मा गांधी की प्रतिमा तथा मोमेंटो भेंट कर सम्मानित किया। आयोजन तीनों दिन सुव्यवस्थित तौर पर गरबा रास के साथ ही सुरक्षा और दर्शकों की भी सुविधा का जिम्मा मंच के वोलेंटियर्स के साथ ही पुलिस, समाजसेवियों ने भी संभाले रखा। समिति के राजा राठौड़, राजेश उपाध्याय, गजेंद्र शर्मा, राजेश तिवारी, रवि राठौड़, मानस दवे, संतोष मालवीय आदि ने विशेष सेवा दी। आयोजन की समाप्ति पर मंच संयोजिका प्रेमलता दवे ने सभी का आभार व्यक्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Visitors Views 134