Visitors Views 150

नंद के आनंद भयो जय कन्हैया लाल की

रतलाम

रतलाम । राकेश शर्मा मामा मोटर
शहर के सुयोग परिसर में श्री ऋण मुक्तेश्वर महादेव मंदिर प्रांगण में सार्वजनिक रूप से चल रही संगीत में श्रीमद् भागवत कथा में पंडित श्री विक्रम जी पुरोहित श्री सुदामा जी श्यामगढ़ वाले के मुखारविंद से भागवत कथा का वाचन सरस धाराप्रवाह किया जा रहा है जिसमें आज पूजन के मुख्य यजमान के रूप में श्रीमान बापू सिंह जी कॉन्ट्रैक्टर के पूरे परिवार द्वारा भागवत जी का पूजन अर्चन किया गया सुदामा जी के शो मधुर वाणी में भक्तों ने राजा अमरीश की कथा का श्रवण किया पंडित श्री सुदामा जी ने कहा हरि व्यापक सर्वत्र समाना प्रेम के प्रकट हो ही में जाना अर्थात भगवान को कर प्राप्त करना है तो भगवान को बाहर मत खोजो आंखें बंद करके मन मंदिर के कोने में भगवान को पुकारो भगवान दौड़े चले आते हैं तत्पश्चात संक्षिप्त में राम कथा का वाचन कर कंस जन्म की कथा एवं एवं देवकी वसुदेव का विवाह आकाशवाणी एवं भगवान कृष्ण का जन्म होना बताया वसुदेव जी महाराज रूप में अपने कलेजे के टुकड़े को लेकर नंदगांव नंदबाबा के यहां अपने लाला को छोड़ने जाते हैं जीव जब परमात्मा की ओर हाथ बढ़ाता है तो जीव के सारे बंधन टूट जाते हैं पर जब माया रूपी अंधकार की ओर हाथ बढ़ाता है तो सारे बंधनों में जीव फिर से बंद जाता है यह कथा कह कर कथा में वसुदेव जी भगवान को लेकर पधारें जिसमें मंदिर के पुजारी पंडित श्री मणि शंकर जी जोशी स्वयं वसुदेव बनकर भगवान को मंडल में लेकर पधारें तत्पश्चात पूरे पांडाल में अभी गुलाल से मानव पूरा पांडाल उठ गया हो धूमधाम के साथ नंद उत्सव मनाया गया एवं खिलौने मिठाई आदि सामग्री की रुत आई की गई श्रद्धालु गण मोहन आओ तो सही के सुंदर भजन पर तिलक करके भगवान का जन्मोत्सव मनाया गया। कथा के अंतिम दिवस भंडारे का आयोजन किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Visitors Views 150