Visitors Views 148

शान्तिदूत राजीव गांधी को युंका ने किया याद

breaking रतलाम

रतलाम | प्रकाश तंवर
21 वीं सदी का सपना संजोने वाले देश के लाड़ले पूर्व प्रधानमंत्री स्व राजीवरत्न गांधी की जन्मजयंति पर हमें ‘अनेकता में एकता भारतीय संस्कृति की विशेषता’ के महामंत्र को आत्मसात करने की आवश्यकता है। आम भारतीयों को गांधी परिवार एवं नेहरू परिवार की कुर्बानियों को ताजा कर, नये राष्ट्र की आधारशीला रखने की आवश्यकता है। राष्ट्र की भौगोलिक, ऐतिहासिक, सामाजिक, राजनैतिक परिस्थितियों को दृष्टिगत रखते हुए, संकीर्णता के भावों से दूर, स्वार्थ की राजनीति से ऊपर उठकर, देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीवरत्न गांधी को याद करें। तथा भारत को शान्तिदूत बनाने में फिर से समूचा भारतीय समाज अग्रसीत हो जाये। यही देश के सपूत के प्रति सच्ची एवं पक्की श्रद्धांजलि है। उपरोक्त वक्तव्य रतलाम शहर युवा कांग्रेस अध्यक्ष मयंक सिंह जाट ने पोलोग्राउण्ड के पास स्थित अम्बेडकर भवन में पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी की जन्मजयंति के अवसर पर युवक कांग्रेस द्वारा आयोजित कार्यक्रम में कहा। भावपूर्ण समारोह में सर्वप्रथम स्व. गांधी के चित्र पर माल्यार्पण कर दीप प्रज्वलित किया गया। तत्पश्चात् युका के प्रदेश प्रभारी दीपक चोटीवाला, कांग्रेस जिला प्रभारी धीरूभाई पटेल के मुख्य आतिथ्य में प्रथम बार मतदान करने वाले मतदाताओं को ‘लोकतंत्र के ध्वजवाहक’ के रूप में प्रमाणपत्र प्रदान कर प्रोत्साहित किया गया। इस अवसर पर कांग्रेस जिला अध्यक्ष प्रभू राठौड़, युंका ग्रामीण अध्यक्ष संजय चौधरी, युवा नेता सय्यद वुसद जदी, किशोर सिंह चौहान (कन्नू दरबार), किशन सिंघा़ड़, नदीम मिर्जा, जगदीश पाटीदार, अनिल कटारिया, लक्की शुक्ला, देवेन्द्र पंवार, आयुष राठौर सहित बड़ी संख्या में युंका कार्यकर्ताओं ने स्व. गांधी को श्रद्धासुमन अर्पित किये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Visitors Views 148