Visitors Views 154

सुब्रमण्यम स्वामी की हल्की बयानबाजी से भाजपा बैकफुट पर

breaking देश

देश के कानून को सूक्ष्मता से जानने वाले राज्य सभा सदस्य सुब्रमण्यम स्वामी देश के कई अहम मुद्दों पर तर्कसंगत बयान देते रहे हैं स्वामी जी यह बात अच्छे से जानते हैं कि कौन सी बात मीडिया में कब कहना है। भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी  पड़ोसी देश पाकिस्तान की यात्रा बिना किसी शोर शराबे के कर के देश में लोग लौट आते हैं।  देशवासी की भावनाएं अलग-अलग होती है किसी को मोदी जी के बिना बताए यात्रा की राजनीति अच्छी लगती है तो किसी को मोदी जी की पाक यात्रा अवांछित लगी। देश में बहस भी हुई कि देश के जिम्मेदार पी. एम. देश को विश्वास में लिए बगैर पाक प्रधानमंत्री के निवास पहुंच गए। ऐसे में कानूनविद सुब्रमण्यम स्वामी ने स्वयं की भारतीय जनता पार्टी के सिरमोर पर मीडिया में सार्वजनिक प्रतिक्रिया व्यक्त व्यक्त नहीं की।  देश में आम चर्चा है कि भाजपाइयों का यह कैसा देश के प्रति दोहरा मापदंड है पीएम मोदी पाकिस्तान जाए तो देश का हित होता है और देश के अन्य जिम्मेदार पाक की यात्रा विधिवत रूप से करें तो स्वामी जी की नज़र में गद्दार ! भाजपाइयों के चश्मे में दो तरह के ग्लास लगे हैं जिसमें दोरंगी झंडे वाले ही देश की आंखों के तारे बाकी देश भक्त राष्ट्रीय भावना वाले भाजपाई चश्मे में आंखों की किरकिरी नजर आते हैं।  जो देश हित में सही नहीं है।  स्मरण रहे भोजपुरी सुब्रमण्यम जी को भारत के जिम्मेदार क्रिकेट खिलाड़ी श्री कपिलदेव एवं श्री नवजोत सिंह सिद्धू के पाकिस्तान के नियुक्ति पर ऐतराज है जन चर्चा यह है कि यदि पाक पीएम  मोदी जी को निमंत्रण देते तो क्या स्वामी का मोदी के प्रति भी यहीं रुक रहता?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Visitors Views 154