Visitors Views 212

जिला अंजुमन कमेटी द्वारा वसीम रिजवी के खिलाफ महामहिम राष्ट्रपति के नाम दिया ज्ञापन…

breaking मध्यप्रदेश

झाबुआ। परवेज हुसैन
उत्तर प्रदेश निवासी वसीम रिजवी द्वारा पवित्र धार्मिक ग्रंथ कुरान के विरुद्ध भ्रामक एवं असत्य अशोभनीय कथन किए जाने को सुप्रीम कोर्ट में पवित्र ग्रंथ कुरान की 26 आयतो को हटाने के संबंध में याचिका दायर की गई थी जिससे देश का तमाम मुस्लिम समुदाय आज हुआ है।
इसी परिप्रेक्ष्य में 17 मार्च को जिला अंजुमन कमेटी झाबुआ के बैनर तले मुस्लिम समुदाय द्वारा महामहिम राष्ट्रपति के नाम एक ज्ञापन डिप्टी कलेक्टर मालवीय को प्रस्तुत किया गया। ज्ञापन में मांग की गई कि कतिपय वसीम रिजवी के इस कृत्य से देश के तमाम मुस्लिम समुदाय को ठेस पहुंची है, व सम्पूर्ण मुस्लिम समुदाय इस कृत्य की कड़ी भर्त्सना करता है। वसीम रिजवी द्वारा पवित्र कुरान-ए-पाक की आयतों को आपसी भाईचारे एवं अखंडता के विरुद्ध होकर लोगों को हिंसक मानसिकता की ओर पहुंचाने जैसा कार्य बताया गया है, जबकि पवित्र कुरान शरीफ में ऐसा कुछ नहीं है, बल्कि पूरी इंसानियत एवं सभी धर्मों के अनुयायियों को सीधे राह पर चलने के मार्ग प्रदर्शित करती है। उक्त वक्तव्य से इस्लाम की छवि खराब करने की कोशिश की गई है, जिससे आज मुस्लिम समुदाय आहत हुआ है, कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने की मांग की गई।ज्ञापन दौरान जिला अंजुमन कमेटी के जिला सदर नोमान खान, मुस्लिम पंचायत सदर हाजी सलीम, हाजी मुर्तुजा खान, हाजी अली मुद्दीन सय्यद, अल्पसंख्यक नेता साबिर फिटवेल पारा सदर सलेल पठान, पेटलावद सदर मुश्ताक शेख, हसनैन मस्जिद सदर अब्दुल रहमान, हनीफ शेख, नायाब सदर बावड़ी मस्जिद नायाब सदर नवाब खान, सेक्रेटरी समीउद्दीन सय्यद, पूर्व सेक्रेटरी नूरुद्दीन शेख, एडवोकेट गण शाहिद खान, जियाउद्दीन कुरेशी, यामीन शेख, अफजल कुरेशी, अल्पसंख्यक कांग्रेसी विभाग के अध्यक्ष वसीम सय्यद, पार्षद अब्दुल शेख मुजम्मिल खान, बाबू खान, इस्तियाक शेख, यामीन वकील के अलावा समाज के वरिष्ठ ज़न मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Visitors Views 212